Constitution

1773 regulating act in hindi

1773 regulating act in hindi – विशेषताएँ, महत्व, क्यूँ बनाया गया, पृष्ठभूमि

1773 regulating act in hindi – दोस्तों, जैसा कि आप सबको पता है की अंग्रेजो ने भारत पर बहुत लम्बे समय तक शाशन किया और भारत को बहुत कठिनाइयों के बाद आज़ादी मिली थी। अंग्रेजो ने भारत पर शाशन सही और सुचारू रूप से चलाने के लिए कई योजनाएँ बनाई और कई ऐक्ट तथा बिल …

1773 regulating act in hindi – विशेषताएँ, महत्व, क्यूँ बनाया गया, पृष्ठभूमि Read More »

संविधान संशोधन

संविधान संशोधन – विशेषताएं, सूची, क्यूँ करने पड़े संशोधन, कारण

संविधान संशोधन – दोस्तों, भारतीय संविधान में जब वह बनकर तैयार हुआ था तब उसमे मूल रूप से 395 अनुछेद, 8 अनुसूचियाँ, और 22 भाग थे, परंतु जैसा की आप जानते है समय हमेशा एक जैसा कभी नहीं रहता, समय परिवर्तित होता रहता है। इसलिए भारतीय संविधान में समय समय पर संशोधन हुए, जिसमे कुछ …

संविधान संशोधन – विशेषताएं, सूची, क्यूँ करने पड़े संशोधन, कारण Read More »

Articles of Indian Constitution in Hindi

Articles of Indian Constitution in Hindi –

Articles of Indian Constitution in Hindi – भारतीय संविधान में मूल रूप से 395 अनुछेद थे, परन्तु धीरे-धीरे इनमे कुछ और अनुछेद जुड़ते गए, और आज इनकी सख्या 450 से भी अधिक हो गयी है, परन्तु ये अनुछेद मुख्य अनुछेदो में उनके बिंदुओं के रूप में जोड़े गए जैसे की (क), (ख), (ग) आदि, इसलिए …

Articles of Indian Constitution in Hindi – Read More »

संविधान के भाग

संविधान के भाग – 25 भाग, क्या है तात्पर्य, भागों की प्रमुख सूची

संविधान के भाग – भारतीय संविधान में वर्तमान में कुल 25 भाग है भारतीय संविधान के भाग से यह तात्पर्य है की जितने भी क्रमशः अनुछेद संविधान में है उसमें बहुत अनुछेद एक ही विषय के ऊपर बात करते है, तो जो अनुछेद एक ही विषय के ऊपर बात करते है, उन्हें एक करके उनका …

संविधान के भाग – 25 भाग, क्या है तात्पर्य, भागों की प्रमुख सूची Read More »

भारतीय संविधान की अनुसूचियां

भारतीय संविधान की अनुसूचियां – 12 अनुसूचियां, विशेषताएं, अर्थ

भारतीय संविधान की अनुसूचियां – भारतीय संविधान में 12 अनुसूचियाँ है। दोस्तों, मूल भारतीय संविधान में पहले 8 अनुसूचियाँ थी, परन्तु अब वर्तमान में ये अनुसूचियाँ बढ़कर 8 से 12 हो गयी है. भारतीय संविधान में अनुसूचियों से तात्पर्य है की जो भी बातें संविधान में सूचियों के रूप में लिखी गयी है जैसे 1, …

भारतीय संविधान की अनुसूचियां – 12 अनुसूचियां, विशेषताएं, अर्थ Read More »

Directive Principles of State Policy in Hindi

Directive Principles of State Policy in Hindi – 36 से 51, भाग 4, पूरा विवरण

Directive Principles of State Policy in Hindi – भारतीय संविधान में राज्य के नीति निर्देशक तत्व, आयरलैंड से लिए गए है और इसका तात्पर्य ये है की संविधान में केंद्र और राज्य सरकार दोनों को ही निर्देश दिए गए है की जनता के सम्बन्ध में कुछ भी बनाना हो या कोई विधि बनाना हो तो …

Directive Principles of State Policy in Hindi – 36 से 51, भाग 4, पूरा विवरण Read More »

fundamental rights in hindi

fundamental rights in hindi – मौलिक अधिकार, 5 प्रकार के रीट, सारे अधिकार

fundamental rights in hindi – दोस्तों, मौलिक अधिकार हमारे सविधान में वह अधिकार होते है जो हर भारतीय नागरिक को उसके जन्म के साथ ही मिल जाते है या दिए जाते है, ये अधिकार जनता के हितों का संरक्षण करते हैं। भारतीय सविधान में इसका वर्णन भाग 3 तथा अनुछेद संख्या 12-35 में मिलता है, …

fundamental rights in hindi – मौलिक अधिकार, 5 प्रकार के रीट, सारे अधिकार Read More »

parliamentary committees in hindi

Parliamentary Committees in Hindi

parliamentary committees in hindi – दोस्तों, संसद भारत के संचालन तंत्र का एक मुख्य हिस्सा है, ये विधायिका के रूप में भी जानी जाती है, अर्थात यहाँ विधि से जुड़े कार्य और विधि का निर्माण किया जाता है, और जैसा की आपको पता होगा की इसके तीन अंग होते है, लोक सभा, राज्य सभा, और …

Parliamentary Committees in Hindi Read More »

bhartiya samvidhan ki prastavna

bhartiya samvidhan ki prastavna – पूरा विवरण, स्रोत, स्वरूप, उद्देश्य

bhartiya samvidhan ki prastavna – भारतीय संविधान की प्रस्तावना संविधान का एक महत्वपूर्ण अंग है जो भारतीय संविधान की झलक को दर्शाता है, प्रस्तावना को उद्देशिका के नाम से भी संबोधित किया जाता है। प्रस्तावना में भारतीय संविधान के मूल आदर्शों को समाहित किया गया है,जो भारतीय संविधान की झलक को दर्शाता है। भारतीय संविधान …

bhartiya samvidhan ki prastavna – पूरा विवरण, स्रोत, स्वरूप, उद्देश्य Read More »

भारतीय संविधान के स्रोत

भारतीय संविधान के स्रोत – sources of Indian constitution in Hindi

भारतीय संविधान के स्रोत – दोस्तों, जब भारत को अपना संविधान बनाने का अवसर प्राप्त हुआ और कैबिनेट मिशन के भारत आने के बाद संविधान सभा का गठन हुआ, तब संविधान सभा के पास एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी के साथ साथ एक बहुत बड़ी चुनौती भी थी संविधान को एक मजबूत रूप देने की। भारतीय …

भारतीय संविधान के स्रोत – sources of Indian constitution in Hindi Read More »

Follow us on Social Media