History

History of Jahangir in Hindi

History of Jahangir in Hindi 👑- शासन, विद्रोह, नूरजहां, कला

History of Jahangir in Hindi – दोस्तों, पिछले आर्टिकल में हमने मुग़ल शासक अकबर के बारे में पढ़ा था, आज हम जहाँगीर के बारे में पढ़ेंगे जो अकबर का पुत्र था और अकबर के बाद एक नए शासक के रूप में आता है।  जहाँगीर 1605 में अपने पिता अकबर की मृत्यु के बाद शासक बनता …

History of Jahangir in Hindi 👑- शासन, विद्रोह, नूरजहां, कला Read More »

the history of akbar in hindi

The History of Akbar in Hindi 👑- बैरम खां, पर्दा शासन, साम्राज्य विस्तार, नौ रत्न, सुधार कार्य

The History of Akbar in Hindi – दोस्तों, हमने पिछले आर्टिकल में हुमायूँ के बारे में पढ़ा था, आज हम मध्यकालीन भारतीय इतिहास और मुग़ल काल के सबसे महत्वपूर्ण शासक अकबर के विषय में पढ़ेंगे।  अकबर का शासनकाल 1556 से लेकर 1605 तक का था और उसने लगभग 50 वर्षों तक मुग़ल सत्ता की जड़ों …

The History of Akbar in Hindi 👑- बैरम खां, पर्दा शासन, साम्राज्य विस्तार, नौ रत्न, सुधार कार्य Read More »

History of Humayun in Hindi

History of Humayun in Hindi 👑- असफलता, प्रारंभिक चुनौतियाँ, निष्कासित जीवन

History of Humayun in Hindi – दोस्तों, पिछले आर्टिकल में हमने पढ़ा था की कैसे बाबर द्वारा भारत में मुग़ल वंश की स्थापना की जाती है और उसके द्वारा कई युद्ध भी लड़े गए परन्तु भारत में मुग़ल वंश की स्थापना के बाद वह ज्यादा दिनों तक शासन नहीं चला पाता और स्थापना के चार …

History of Humayun in Hindi 👑- असफलता, प्रारंभिक चुनौतियाँ, निष्कासित जीवन Read More »

History of Babur in Hindi

History of Babur in Hindi 👑- पूरा विवरण, प्रारंभिक संघर्ष, भारत पर आक्रमण

History of Babur in Hindi – दोस्तों, हमने अभी तक दिल्ली सल्तनत के बारे में हमारे पिछले आर्टिकल्स में पढ़ा की कैसे दिल्ली सल्तनत की स्थापना हुई और दिल्ली सल्तनत के सुल्तानों ने क्या क्या कार्य करे, अब हम मुग़ल वंश के बारे में पढ़ेंगे की कैसे मुग़ल वंश की स्थापना हुई, बाबर का इतिहास …

History of Babur in Hindi 👑- पूरा विवरण, प्रारंभिक संघर्ष, भारत पर आक्रमण Read More »

lodi vansh ka sansthapak

lodi vansh ka sansthapak 👑- लोदी वंश ( 1451-1526 ), वंश विवरण, मुख्य कार्य

lodi vansh ka sansthapak – लोदी वंश का संस्थापक था बहलोल लोदी। लोदी वंश दिल्ली सल्तनत का आखरी वंश है और यह वंश भी सैयद वंश की तरह ही तुर्क मुस्लिम वंश नहीं था। सैयद वंश का आखरी सुल्तान आलम शाह, राज्य में मतभेद होने के कारण राज-पाठ छोड़कर चला जाता है और इससे बहलोल …

lodi vansh ka sansthapak 👑- लोदी वंश ( 1451-1526 ), वंश विवरण, मुख्य कार्य Read More »

khizr khan sayyid vansh

khizr khan sayyid vansh

khizr khan sayyid vansh – ख़िज़्र खां ने सैयद वंश की स्थापना की थी। तैमूर लंग के बार बार आक्रमणो और धन लूटे जाने की वजह से तुगलक वंश के नीव बहुत कमज़ोर पड़ गयी थी, और साथ ही साथ तैमूर ने ख़िज़्र खां को लाहौर क्षेत्र में शाशन करने के लिए छोड़ दिया था। …

khizr khan sayyid vansh Read More »

tuglak vansh ka sansthapak

tuglak vansh ka sansthapak – तुग़लक़ वंश (1320-1414), पूरा विवरण, मुख्य कार्य

tuglak vansh ka sansthapak – तुग़लक़ वंश का संस्थापक था गयासुद्दीन तुगलक। दिल्ली सल्तनत का तीसरा वंश तुग़लक़ वंश था, हमने पिछले आर्टिकल्स में दिल्ली सल्तनत के वंशो के बारे में पढ़ा और जाना कि कैसे वे उभरे और ख़त्म हुए, हमने पढ़ा था कि khilji vansh के आखरी सुल्तान को विद्रोहों द्वारा हटा दिया …

tuglak vansh ka sansthapak – तुग़लक़ वंश (1320-1414), पूरा विवरण, मुख्य कार्य Read More »

khilji vansh in hindi

khilji vansh in hindi – (1290-1320), पूरा विवरण, संस्थापक, प्रमुख कार्य

khilji vansh in hindi – इस्लामिक आक्रमणो के बाद भारत में दिल्ली सल्तनत का दौर आता है और इस दौर में सबसे पहले हमने gulam vansh के बारे में पढ़ा कि कैसे gulam vansh की स्थापना होती है और कैसे उस वंश के सुलतानों ने कार्य किये और कैसे गुलाम वंश ख़त्म हुआ। आज हम …

khilji vansh in hindi – (1290-1320), पूरा विवरण, संस्थापक, प्रमुख कार्य Read More »

Gulam Vansh in hindi

Gulam Vansh in hindi – 1206 से 1290, पूरा विवरण, संस्थापक, कैसे ख़त्म हुआ

Gulam Vansh in hindi – मध्य कालीन भारतीय इतिहास में इस्लामिक आक्रमणों के बाद एक सल्तनत काल का जन्म हुआ। यह काल भारत के मध्य कालीन इतिहास का एक महत्वपूर्ण अंग है जिसे भुलाया नहीं जा सकता है और इस काल को हम दिल्ली सल्तनत काल के रूप में जानते है।  हमने history of delhi …

Gulam Vansh in hindi – 1206 से 1290, पूरा विवरण, संस्थापक, कैसे ख़त्म हुआ Read More »

शेर शाह सूरी का प्रशासन

शेर शाह सूरी का प्रशासन – केंद्रीय, प्रान्तीय, अर्थव्यवस्था, न्याय और सैनिक व्यवस्था

शेर शाह सूरी का प्रशासन – हमने पिछले आर्टिकल में शेर शाह सूरी के बारे में पढ़ा था। हमने पढ़ा था की कैसे उनका प्रारंभिक जीवन गुज़रता है और कैसे वे बहुत से संघर्ष के बाद पूरे उत्तर भारत में अपना राज जमा लेते है और मुगलो को वे भारत से बाहर खदेड़ देते है। …

शेर शाह सूरी का प्रशासन – केंद्रीय, प्रान्तीय, अर्थव्यवस्था, न्याय और सैनिक व्यवस्था Read More »